मुंबई। मोदी सरकार द्वारा भारत के पूर्वोत्तर राज्य अरुणाचल प्रदेश में स्थित आदि तीर्थ परशुराम कुंड को विकसित करने के लिए का काम तेजी से चल रहा है। विप्र फाउंडेशन द्वारा यहां विष्णु भगवान के छठे अवतार कहे जाने वाले भगवान परशुराम की 51 फीट ऊंची पंचधातु की प्रतिमा की स्थापना होने जा रही है। धार्मिक जागरण की दिशा में विप्र फाउंडेशन द्वारा कामाक्षी मंदिर कांचीपुरम से अमृत भारत रथयात्रा का शुभारंभ किया गया है। दक्षिण के 3 राज्यों से होते हुए यह रथयात्रा मुंबई के सिद्धिविनायक मंदिर पहुंची।

जहां पर महाराष्ट्र के कैबिनेट मंत्री मंगलप्रभात लोढ़ा, प्रख्यात साहित्यकार डॉ मंजू लोढ़ा समेत अनेक गणमान्य लोगों ने यात्रा का स्वागत करते हुए रथ को आगे के लिए रवाना किया। इस अवसर पर विप्र फाउंडेशन के राष्ट्रीय अध्यक्ष राधेश्याम शर्मा विशेष रूप से उपस्थित रहे। मुंबई में रथ यात्रा के समन्वयक सुशील शर्मा के अनुसार रथ यात्रा के माध्यम से घर-घर तक भगवान परशुराम के प्रति धार्मिक चेतना फैलाने का काम किया जा रहा है। डॉ मंजू लोढ़ा ने कहा कि भगवान परशुराम ने अधर्म और अन्याय करने वालों का संहार किया। उनकी प्रतिमा की स्थापना से सामाजिक चेतना का विकास होगा।

Print Friendly, PDF & Email

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *