मुंबई । जननायक कर्पूरी ठाकुर सेवा समिति ( रजि) केवल एक संगठन ही नहीं,सैन, सविता, श्रीवास, ठाकुर, नन्दवंशी (नाई) समाज के लिए अनुभूत किया जाने वाला भाव है! धन्य हैं! कृतार्थ हैं! नतमस्तक हैं! उस भाव के जो समाज के अधूरे कार्य और समाज कल्याण हेतु जननायक कर्पूरी ठाकुर सेवा समिति के पुरोधाओं के मस्तिष्क में बहता है, मचलता है और परिणति स्वरूप अपनी पूर्ण सामर्थ्य से समाज हित के साथ ही जनकल्याणकारी कार्यों में दिखता है! पंजीकृत राष्ट्रीय सामाजिक संस्था जननायक कर्पूरी ठाकुर सेवा समिति के राष्ट्रीय अध्यक्ष कवि पत्रकार विनय शर्मा दीप की नियुक्ति के पश्चात प्रधान महासचिव हरिकेश शर्मा नंदवंशी ने पहली बार जननायक कर्पूरी ठाकुर सेवा समिति के भविष्य को लेकर समाज को बताते हुए कहा संस्था सदैव अपने सद्प्रयासों से न केवल समाज हित में क्रांतिकारी बदलाव लाने में अहम भूमिका निभाई है बल्कि हमारी सैन समाज धरोहर के संरक्षण के लिए प्रतिबद्ध है!इसी दिशा में जननायक कर्पूरी ठाकुर सेवा समिति का अद्वितीय और अनूठा प्रकल्प है-

” महाराष्ट्र राज्य मुंबई में कर्पूरी ठाकुर जी की प्रतिमा और समाज के (हाल) सांस्कृतिक स्थल, वैवाहिक स्थल, एवं सामाजिक समारोह स्थल के लिए प्रयासरत है! यह निःसंदेह एक गहन और दूर की सोची परिकल्पना है!जिसे साकार करने हेतु जननायक कर्पूरी ठाकुर सेवा समिति कार्यकर्ताओं ने ठान लिया है ! समाज के दानवीर अपने परमार्थत्व को सिद्ध करते हुए यथायोग्य सहयोग करने की कृपा करें! इस निमित्त प्रारंभ की गई समारोह स्थल(हाल) आमंत्रण यात्रा” की गति और क्रियान्वयन हेतु देखते हैं कितने लोग समर्पित है! समाज और कार्यकर्ताओं का जोश चरम पर है! बहुत ही धन्यवाद के पात्र हैं वे सभी परमजीवी, जो इस सामाजिक यात्रा की सार्थकता हेतु तन, मन और धन से लगे हैं! जननायक कर्पूरी ठाकुर सेवा समिति एक मेला बन गया है जो “सर्वे भवन्तु सुखिन:” के सार्थक तथा प्रेरक वाक्य को सिद्ध करना चाहता है! कुछ तो बात है इस संगठन में कि मन स्वत:स्फूर्त होकर नत हो जाता है जननायक कर्पूरी ठाकुर सेवा समिति (रजि) के लिए!

Print Friendly, PDF & Email

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *