मुंबई। सेवा विवेक के निदेशक दिलीप करंबेलकर और मुख्य कार्यकारी अधिकारी लुकेश बंड ने संघ मुख्यालय में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सरसंघचालक मोहन भागवत से मुलाकात की। वे डॉ. हेडगेवार भवन, नागपुर में मिले। इस दौरान लुकेश बंड ने सरसंघचालक मोहन भागवत को संगठन के कार्यों की जानकारी दी। सब जानकारी को समझने के बाद सरसंघचालक ने संस्था के महिला सशक्तिकरण की विशेष रूप से सराहना की। इस अवसर पर दिलीप करमबेलकर और लुकेश बंड ने सरसंघचालक मोहन भागवत को सेवा विवेक संस्था का ब्रोशर और आदिवासी महिलाओं द्वारा बांस की हस्तशिल्प का उपयोग करके बनाई गई वस्तुओं को भेंट की।

सरसंघचालक मोहन भागवत को ये वस्तुएं बहुत पसंद थीं। उन्होंने आदिवासी महिलाओं की कला की सराहना की। गौरतलब हो कि सेवा विवेक सोशल सोसायटी कई वर्षों से पालघर जिले में आदिवासी महिलाओं की गरिमा और रोजगार के लिए काम कर रही है। इस संगठन में काम करने से पहले संगठन में कई महिलाएं, उनके रोजगार का एकमात्र स्रोत कृषि कार्य और गृहकार्य था। सेवा विवेक संस्था से जुड़ने के बाद महिलाओं ने बांस से बने विभिन्न हस्तशिल्प का प्रशिक्षण प्राप्त किया।

प्रशिक्षण पूरा होने के बाद, महिलाओं ने संगठन द्वारा उपलब्ध कराए गए कच्चे माल का उपयोग करके अच्छी गुणवत्ता वाले उत्पादों का उत्पादन करने का कौशल हासिल किया है। इसलिए उनके द्वारा बनाए गए उत्पादों की पूरे देश में मांग है। इससे महिलाओं को बेहतर रोजगार मिलने लगा है, और महिलाओं ने अपने बच्चों की शिक्षा के साथ-साथ घर पर ही विभिन्न जिम्मेदारियों को निभाना शुरू कर दिया है। इससे उन्हें घर के साथ-साथ अपने गांव में भी सम्मान मिलने लगा है। विवेक सेवा संस्था के प्रयासों से महिलाओं को रोजगार के साथ-साथ सम्मान भी मिला, इसका उल्लेख करते हुए नारीशक्ति के प्रयासों की सराहना की।

Print Friendly, PDF & Email

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *