यह महानगर पालिका की लड़ाई ऐसे लड़ना है कि कोई भी शिवसेना को समाप्त करने की भाषा बोलने से घबराए- सुनील प्रभु, शिवसेना नेता
मुंबई के गोरेगांव में शिवसेना गटप्रमुखों के सम्मेलन को संबोधित करते हुए दिंडोशी विधानसभा क्षेत्र के विधायक सुनील प्रभु ने हिंदू हृदय सम्राट स्वर्गीय श्री बाला साहेब ठाकरे जी को नमन कर तथा हमसे जो टकरायेगा वह चूर चूर हो जायेगा नारों के साथ और उद्धव ठाकरे यांचा विजय अशो, आदित्य ठाकरे यांचा विजय अशो के साथ अपने भाषण की शुरुआत की। उन्होंने शिवसैनिकों को संबोधित करते हुए कहा कि आज का यह गटप्रमुख सम्मेलन आने वाले महानगरपालिका चुनाव को लेकर कार्यकर्ता तैयार हो रहे हैं। आने वाले पालिका चुनाव के लिए हर यादी में हमारे कार्यकर्ता तैयार हैं, यह दिखाने के लिए यह आज का गटप्रमुखों का सम्मेलन हैं। जिस पद्धति से आज गटप्रमुखों के सम्मेलन की शुरुआत हो रही है और पक्षप्रमुख उद्धव साहेब ठाकरे जी मार्गदर्शन करेंगे। इस सम्मेलन में मुंबई भर से शिवसैनिक, गटप्रमुख, शाखा प्रमुख भारी संख्या में उपस्थित हैं। आप सब को एक ही बात कहना है कि शिवसेना को पूर्ण रूप से समाप्त करने का जिसने किसी ने बीणा उठाया है तो यह चित्र (नजारा) देख लो, क्योंकि हिंदू हृदय सम्राट मा. श्री बाला साहेब ठाकरे के विचारों का जो ज्वालामुखी उठ रहा है इसका लावा मुंबई से पूरे महाराष्ट्र में फैलेगा। यह महानगर पालिका की लड़ाई ऐसे लड़ना है कि कोई भी शिवसेना को समाप्त करने की भाषा बोलने से घबराए।
मुंबई में करीब आधे घंटे तक चले शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे के भाषण में केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह, मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे, उपमुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस की आलोचना की गई। कुल मिलाकर उद्धव ठाकरे ने अपने भाषण में शिंदे गुट और बीजेपी पर जमकर निशाना साधा। इस मौके पर उद्धव ठाकरे ने कई मुद्दों पर टिप्पणी की। उन्होंने शिंदे गुट और बीजेपी पर जमकर निशाना साधा है। ठाकरे ने कहा कि मुंबई देश का वित्तीय केंद्र है और आप वहां से वित्तीय केंद्र चलाते हैं? क्या आप वेदांत के बारे में झूठ बोलते हैं? उद्धव ठाकरे ने वेदांत परियोजना पर शिंदे समूह की आलोचना की।
उद्धव ठाकरे ने कहा कि केंद्र सरकार इस परियोजना को बीजेपी शासित राज्य में स्थानांतरित करने के बाद भारी प्रोत्साहन दे रहा है। केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने अपनी पार्टी से बीएमसी चुनावों में शिवसेना को उसकी जगह दिखाने के लिए कहा है। मुंबई के साथ शिवसेना का अटूट रिश्ता अटूट था और पार्टी उस दिन के साथ गहराई से जुड़ी हुई थी। आम मुंबईकरों का दैनिक जीवन, जब भी आवश्यकता होती है, उनकी मदद के लिए हमेशा तैयार रहते हैं।
शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने बीजेपी को आगामी मुंबई निकाय चुनावों में उसे हराने की चुनौती देते हुए कहा कि मुंबई के साथ उनकी पार्टी का अटूट रिश्ता है। ठाकरे ने बीजेपी पर 1.54 लाख करोड़ रुपये की वेदांत-फॉक्सकॉन सेमीकंडक्टर परियोजना पर झूठ बोलने का भी गंभीर आरोप लगाया, जिसे गुजरात में स्थानांतरित कर दिया गया है।
शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने अपने पूर्व सहयोगी बीजेपी से लोगों को यह बताने के लिए कहा कि मुंबई के निर्माण में उसका क्या योगदान था, इसके अलावा इसे सिर्फ अचल संपत्ति का एक टुकड़ा मानें। उद्धव ठाकरे ने आगे कहा कि मुझे अपने परिवार पर गर्व है जिन्होंने संयुक्त महाराष्ट्र आंदोलन में हिस्सा लिया। अगर जान बचाना भ्रष्टाचार है, तो हमने यह किया है। ठाकरे ने कोरोना महामारी के दौरान बीजेपी के भ्रष्टाचार के आरोपों का जिक्र करते हुए कहा, जब महाराष्ट्र में शिवसेना के नेतृत्व वाला सत्तारूढ़ गठबंधन था।
Print Friendly, PDF & Email

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.