महर्षि दयानंद कॉलेज में पोस्टर एवं काव्यपाठ प्रतियोगिता संपन्न।

मुंबई। हिंदी विभाग महर्षि दयानंद कॉलेज, परेल में हिंदी सप्ताह के अवसर पर पोस्टर प्रतियोगिता और काव्य पाठ का आयोजन डॉ.उमेश चन्द्र शुक्ल अध्यक्ष हिन्दी-विभाग के संयोजन में किया गया। हिंदी सप्ताह समारोह का उदघाटन कॉलेज की प्राचार्या श्रीमती डॉ.छाया पानसे एवं उपप्राचार्या कला संकाय श्रीमती मैथिली मुकुंद ने किया । डॉ.मनीषा आचार्या एवं डॉ.हेमंत शर्मा उपप्राचार्य कामर्स संकाय कि गरिमामय उपस्थिति में “बेटी बचाओ और बेटी पढ़ाओ” एवं “पर्यावरण संरक्षण” विषय आधारित पोस्टर प्रतियोगिता में कुल 66 प्रतिभागियों ने भाग लिया।

इस अवसर पर डॉ.पानसे ने इस तरह की प्रतियोगिता विद्यार्थियों के विकास में सकारात्मक भूमिका का निर्वाह करेंगी।इस विषय पर जागरूकता अति आवश्यक है। इस विषय पर वक्तृत्व स्पर्धा का आयोजन का सुझाव दिया। निर्णायक डॉ.नम्रता होवाल अध्यक्ष इतिहास विभाग ने परिणाम घोषित करते हुए कहा कि निर्णय करना बहुत मुश्किल था। प्रथम स्थान स्नेहल धीवर, द्वितीय अक्षता अड़ेया, तृतीय श्रुति टकले एवं सांत्वना पुरस्कार श्रेयश दायमा को मिला। डॉ.उषा दुबे के कुशल संयोजन में पोस्टर प्रतियोगिता संपन्न हुई। 17 सितंबर को काव्य पाठ प्रतियोगिता का आयोजन किया गया ।उपप्राचार्या कला संकाय प्रो.श्रीमति मैथिली मुकुंद ने कहा कि “कविता व्यक्तित्व के विकास में महत्वपूर्ण भूमिका का निर्वाह करती है। कविता की समझ हमें अत्यंत सजग और संवेदनशील बनाती है।

” डॉ.उमेश चन्द्र शुक्ल ने कहा कि ‘कविता की समझ के लिए सबसे बड़ा प्रश्न है कि हम कविता कैसे पढ़ें ? सही तरह से शुद्ध वाचन कविता के शब्द सौंदर्य और अर्थशक्ति अर्थात अर्थ सौंदर्य को पूरी तरह से खोलने में पूर्ण समर्थ है। कविता की समझ मनुष्य को मनुष्य बनाने में कविता महत्वपूर्ण भूमिका का निर्वाह करती” कविता पाठ प्रतियोगिता में 21 प्रतिभागियों ने भाग लिया।प्रथम स्थान जया बिंद, द्वितीय विवेक सिंह, तृतीय स्थान किसन चौहान को मिला। सांत्वना पुरस्कार ममता संतोष और साक्षी धीवर को दिया गया। प्रतियोगिता का निर्णय हिंदी विभाग के अध्यक्ष डॉ. उमेश चन्द्र शुक्ल ने घोषित किया एवं डॉ.उषा दुबे ने सभी लोगों के प्रति आभार व्यक्त किया।

Print Friendly, PDF & Email

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.