वलसाड की ककवाड़ी प्रा. विद्यालय को ग्रीन स्कूल प्रतियोगिता में राष्ट्रीय अवार्ड एवं 4 लाख का पुरस्कार दिया गया.   वलसाड की ककवाड़ी प्रा. विद्यालय को ग्रीन स्कूल प्रतियोगिता में राष्ट्रीय अवार्ड एवं 4 लाख का पुरस्कार दिया गया. 
 प्रधानाचार्य और 3 छात्रों को गुजरात के शिक्षा मंत्री श्री जीतूभाई वघानी द्वारा सम्मानित किया गया. प्रधानाचार्य और 3 छात्रों को गुजरात के शिक्षा मंत्री श्री जीतूभाई वघानी द्वारा सम्मानित किया गया. 
 पुरस्कार राशि का उपयोग पर्यावरण की सुरक्षा के लिए 10 महत्वपूर्ण उद्देश्यों के लिए किया जाएगा.
प्रधानाचार्य और 3 छात्रों को गुजरात के शिक्षा मंत्री श्री जीतूभाई वघानी द्वारा सम्मानित किया गया. 
 वलसाड. हैदराबाद द्वारा इंडियन ग्रीन बिल्डिंग काउंसिल (IGBC) ग्रीन योर स्कूल कॉन्टेस्ट के अंतर्गत ग्रीन बिल्डिंग IGBC ग्रीन स्कूल अवार्ड का आयोजन किया गया. वर्ष 2020 में ग्रीन एंड सस्टेइनेबल स्कूल की प्रतियोगिता में देश के 380 स्कूलों ने भाग लिया. पहले दौर के बाद कुल 8 स्कूलों का चयन किया गया, जिनमें 2 हैदराबाद से, 3 गुजरात से, 1 राजस्थान से, 1 ओडिशा से और 1 दिल्ली के स्कूल शामिल थे. इन 8 स्कूलों में से टॉप 3 के चयन के लिए ऑनलाइन 24-04-2021 को वर्चुअल मोड में प्रतियोगिता आयोजित की गई थी. जिसमें प्राथमिक विद्यालय काकवाड़ी कक्षा 8 के विद्यार्थी साहिल टंडेल, मानव टंडेल एवं वेदिका टंडेल ने प्राथमिक विद्यालय काकवाड़ी की ओर से प्रस्तुती कर राष्ट्रीय स्तर पर प्रथम स्थान प्राप्त कर विद्यालय व काकवाड़ी गांव का गौरव बढ़ाया है. जिसके लिए आईजीबीसी द्वारा ग्रीन स्कूल अवार्ड और 4 लाख रुपये की नकद राशि और छात्रों को प्रमाण पत्र दिए गए. पुरस्कार राशि का उपयोग स्कूल द्वारा प्रस्तुत पर्यावरण संरक्षण के 10 उद्देश्यों के कार्यान्वयन के लिए किया जाएगा. राष्ट्रीय स्तर पर प्रथम स्थान प्राप्त होते ही विद्यालय परिवार व ग्रामीणों में हर्ष की अनुभूति लौट आई.
वहीं वलसाड के साथ काकवाड़ी प्राइमरी स्कूल ने भी गुजरात को राष्ट्रीय स्तर पर गौरवान्वित किया. जबकि शिक्षा मंत्री श्री जीतूभाई वघानी द्वारा इस्कॉन अहमदाबाद में दीनदयाल उपाध्याय सभागार में स्कूल के प्रधानाचार्य श्री चेतनभाई पटेल और स्कूल के 3 छात्रों को पुरस्कारों से सम्मानित किया गया.
प्रधानाचार्य और 3 छात्रों को गुजरात के शिक्षा मंत्री श्री जीतूभाई वघानी द्वारा सम्मानित किया गया. 
इस प्रतियोगिता के लिए स्कूल को पूरी तरह से तैयार करने के लिए श्रुति पटेल (राज्य परियोजना अभियंता, कुल शिक्षा अभियान, गांधीनगर) को जिला परियोजना अभियंता श्री चंदूभाई पटेल, वास्तुकार जिजनाबेन पटेल, कुल शिक्षा अभियान वलसाड से तकनीकी संसाधन व्यक्ति जितेंद्रभाई पटेल द्वारा निर्देशित किया गया था. जिसके लिए समस्त विद्यालय परिवार की ओर से विद्यालय के प्राचार्य चेतनभाई पटेल ने सभी का आभार व्यक्त करते हुए हर्ष एवं गौरव की अनुभूति की. पर्यावरण के संरक्षण के लिए स्कूल द्वारा प्रस्तुत किए गए 10 अंक ग्रीन एंड सस्टेइनेबल स्कूल में बच्चों की कुल 6 टीमें बनाई गईं थीं. इसमें वायु, जल, भूमि, ऊर्जा, भवन और अपशिष्ट शामिल थे. शिक्षकों को टीम लीडर के रूप में नियुक्त किया गया और उनके मार्गदर्शन में काम किया, ताकि बच्चों में प्रकृति संरक्षण के बारे में अच्छी आदतें विकसित हों. (1) मशरूम की खेती, (2) भवन संरक्षण के लिए हरी दीवार, (3) वैदिक पेंट, (4) खेल के मैदान के लिए खेल उपकरण, (5) स्कूल सुरक्षा के उपकरण, (6) सौर विलवणीकरण प्रणाली (खारा पानी को मीठा करना (7) लकड़ी वर्षा जल संचयन के लिए बैरल,  नाव पर हरी छत, (9) कोकोपीट बनाना और (10) ऊर्जा और पानी बचाने के लिए जागरूकता अभियान जैसे आइडिया प्रस्तुत कर ग्रीन स्कूल अवार्ड 4 में प्रथम स्थान प्राप्त करने वाला स्कूल 4 लाख रुपये के नकद पुरस्कार के हकदार बन गए हैं.
प्रधानाचार्य और 3 छात्रों को गुजरात के शिक्षा मंत्री श्री जीतूभाई वघानी द्वारा सम्मानित किया गया. 
Print Friendly, PDF & Email

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.