नासिक से कपराड़ा के आदिवासी क्षेत्र में नकली नोट को बाजार में चलाने वाले रैकेट को पकड़ा गया.

नानापोंढ़ा में 500 रूपये के 1094 नकली नोट के साथ तीन गिरफ्तार.
वलसाड जिला एसओजी की टीम ने मिली पूर्व सूचना के आधार पर कपराड़ा तालुका के नानापोंढ़ा में आम्रवन गार्डन के पास तीन व्यक्तियों को रोकर तलाशी के दौरान उनके पास से 500 रूपये के 1091 नकली नोट बरामद किए गए. जांच-पड़ताल के दौरान पता चला कि यह 500 के कुल नोट कलर झेरोक्स प्रिंट की है. उसी दौरान एसओजी की टीम ने तीनों व्यक्तियों को गिरफ्तार कर लिया.
वलसाड जिला पुलिस अधीक्षक डॉ राजदीप सिंह.

 

वहीं रेंज आईजी डॉ एसपी पांडियन और एसपी डॉ राजदीप सिंह झाला, मददनीश पुलिस अधीक्षक श्रीपाल शेषमा द्वारा अर्थतंत्र को नुकसान पहुंचाने वाले नकली नोटों के सौदागरों को पकड़ने के लिए एसओजी की टीम को सतर्क किया गया था. इस दिशा में एसओजी के पीआई सी बी चौधरी के मार्गदर्शन के अंतर्गत पीएसआई एल जी राठौड़ व वापी स्क्वाड के स्टाफ बिपिन जयराम के साथ पेट्रोलिंग के दौरान मिली सूचना के आधार पर नानापोंढ़ा धरमपुर वापी रोड पर चेकिंग की गई थी. जिसमें तीन व्यक्तियों को पकड़कर पूछताछ की गई और तलाशी के दौरान उनके पास से 5.47 लाख रूपये बरामद किए गए जो 500 रूपये के 1094 नोट थे. जब उन नोटों की जांच-पड़ताल की गई तो वे सभी नकली नोट पाये गये. जिसके आधार पर उन तीनों व्यक्तियों को एसओजी की टीम ने गिरफ्तार कर लिया.
नासिक के बाणु उर्फ बाला चौधरी ने नोट दिया था.
गिरफ्तार किए गए आरोपियों से पूछताछ में पता चला कि 500 रूपये के नोटों को कलर झेरोक्स में प्रिंट निकाल कर लोगों के साथ ठगी करने का आयोजन किया गया था. यह नकली नोट कपराड़ा तालुका के आदिवासी क्षेत्र में चलाने के लिए नासिक के सारस्ता गांव का बाणु उर्फ बाला चौधरी ने आरोपियों को दिया था.
पकड़े गए तीन आरोपियों में एक नासिक का निकला.
1. ईश्वर धाकल राबडे, रहने वाला बामढ़वाडा, मूलगांव फणिया तालुका कपराड़ा.
2. युवराज यमरूत वणवी, रहने वाला बापन विहार गांव, बालवाड़ी, तालुका त्र्यंबक, जिला नासिक.
3. मोहजी जैतरे वरठात, रहने वाला केतकी गांव, वांगण फणिया, तालुका कपराड़ा, जिला वलसाड.
नासिक का मुख्य सूत्रधार नकली नोट को चलाने के बदले में 25 हजार कमीशन भी देता.
वलसाड जिला पुलिस अधीक्षक डॉ राजदीप सिंह.

 

इसके पहले भी कपराड़ा तालुका में से कलर झेरोक्स प्रिंट की नकली नोट के रैकेट को वलसाड जिला पुलिस पकड़ चुकी है. पकड़े गए आरोपियों द्वारा नानापोंढ़ा क्षेत्र के बाजार में भोली-भाली आदिवासी जनता व छोटे-छोटे धंधे वालों को येनकेन प्रकार यह नकली नोट चलाने के फिराक में थे. इस काम के लिए मुख्य सूत्रधार बाणु उर्फ बाला चौधरी से 25 हजार रूपये कमीशन भी मिलने वाला था. जबकि गिरफ्तार आरोपियों को समान रूप से विभाजित किया जाना था. वहीं नासिक के इस आरोपी को वांटेड घोषित किया गया है.–वलसाड पुलिस अधीक्षक डॉ राजदीप सिंह झाला.
Print Friendly, PDF & Email

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.