नागरिकता संशोधन कानून पर अपनी जदयू पार्टी से अलग रुख रखने वाले चुनावी रणनीतिकार प्रशांत किशोर को लेकर बिहार में महागठबंधन खासा उत्साहित है। पूर्व केंद्रीय मंत्री उपेंद्र कुशवाहा की राष्ट्रीय लोक समता पार्टी ने प्रशांत किशोर को न्योता देते हुए कहा कि वे जदयू का पद त्याग कर महागठबंधन में आ जाएं। रालोसपा के प्रधान महासचिव माधव आनंद ने कहा कि अगर वे (पीके) आएंगे तो हम सब लोग उनका स्वागत करेंगे।
माधव आनंद के प्रशांत किशोर से अच्छे संबंध हैं। \ प्रशांत किशोर प्रसिद्ध रणनीतिकार हैं, स्वभाविक है अगर वे महागठबंधन से जुड़ते हैं तो उसे लाभ होगा। आनंद का कहना है कि यदि पीके महागठबंधन की तरफ आएंगे तो उनको मान-सम्मान मिलेगा। यह बिहार के लिए भी अच्छा होगा। वैसे यह भी महत्वपूर्ण है पिछले चुनाव में पीके महागठबंधन के रणनीतिकार थे और भाजपा को धुल चटा दी थी। यह अलग बात है कि बाद में जदयू को भाजपा ने इम्पोर्ट कर लिया और महागठबंधन को विपक्ष में बैठना पड़ा।

Print Friendly, PDF & Email

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *